home Success Motivation, Website Quotes जगह से विचारो का सम्बन्ध

जगह से विचारो का सम्बन्ध

Website quotes  & Success motivation

मित्रो कभी आपने सोचा है की एक ही समय पर जन्मे दो व्यक्तियों  की सोच, समझ शक्ति युवावस्था में अलग अलग क्यों होती है ?

आज  हम कुछ Website quotes and Success motivation के  माध्यम से आप को  इस बात पर प्रकाश डालेंगे | अगर दो व्यक्ति एक ही समय अलग अलग जगह पैदा हुआ व बड़े हुए तो निश्चित तौर पर उनकी सोच समझ आपस में एक दम डिफरेंट होगी  जैसे एक बैंगलोर मैं पैदा हुआ और एक पटना में पैदा हुआ |

जबकि दो व्यक्ति एक ही समय एक साथ पले बड़े हो तो उनकी सोच समझ एक दम डिफरेंट नहीं होती है जैसे दोनों व्यक्ति या तो पटना में पैदा हुए हो या तो दोनों बैंगलोर मैं पैदा हुए हो | ऐसा क्यों होता है कभी आप ने ये बात जानने की कोसिस की है, क्या नहीं ? हम आज इस इंटरेस्टिंग टॉपिक पर कुछ प्रेशर डालने  जा रहे है |

  • एक ही जगह रह रहे व्यक्ति के बारे में

एक ही जगह पले बड़े हुए लोगो की सोच एक जैसी इसलिए होती है की वो साथ साथ खेलते है साथ में बात करते है या  कहे ये लोग  अपने विचारो को इन सभी लोगों से  शेयर करते है और बहस करके equilibrium स्टेज पर आ जाते है जिससे उनकी सोच मेल खाने लगती है अर्थात वे बहस के बाद लगभग एक जैसा सोचने लग जाते है | एक साथ रहने पर उनके खान पान , उनके भाषा शैली, इनके स्ट्रोंग पॉइंट, इनके वीक पॉइंट सब  एक जैसी हो जाती है  ये तो उनकी बात हुई जिनसे आपने आस पास के लोगो से बात होती है |

p3

 

सभी लोगो से सभी की बात तो होती नहीं | और जिनसे अपने आस पास के लोगो की बात नहीं होती उनसे भी कुछ इसतरह से सिखाते रहते है

  • उनको कम से कम देखते ही रहते है और हाव भाव को समझते है
  • उनकी बॉडी लैंग्वेज को देखकर,
  • उनके चलने के स्टाइल को देख कर
  • उनके बोलने के स्टाइल को देखकर
  • उनके रहन सहन को देखा उन जैसा धीरे धीरे व्यव्हार करने लग जाते है

और इस प्रकार लगभग ७५% उनकी सोच दुसरे व्यक्ति जो उन्ही के इलाके में रहता है मिलती जाती है |

imp3

 

 

 

आप समझ सकते है की जब दो पटना के लोग बैंगलोर में जाते है तो उनके बोलने की शैली, सोच, हँसने वाली चीज ये कॉमन हो जाती है जिससे बैंगलोर के लोग हर पटना के लोगो की इन चीजो को जज कर लेता है

यही कारण है की लोग जब दुसरे शहर जाते है तो वहा के लोग उनसे पहली मुलाकात में यही पूछते है की आप कहा से आये है जब कोई बताता है पटना से है तो जगह के नाम से उस आदमी के बारे में वो अपने मन में विचार बना लेते है | और वो ऐसा गलत नहीं सोचते है | वो काफी हद तक सही ही होता है एक ही जगह रहने वाले अधिकांशत्या एक ही जैसा सोचते है |

ब) अलग अलग जगह रह रहे व्यक्ति के बारे में

मित्रो एक व्यक्ति अगर पटना में और दूसरा बैंगलोर में पैदा हुआ है तो निश्चित तौर पर उनके विचार अलग अलग, उनके खान पान , उनके भाषा शैली, उनकी बॉडी लैंग्वेज, इनके स्ट्रोंग पॉइंट, इनके वीक पॉइंट उनके चलने का स्टाइल सब एक दुसरे से मैच नहीं खाता है |

p2

 

मित्रो अगर आप किसी दुसरे शहर में जाते हो और सामने वाला आप को देखकर और आप की बिर्थ प्लेस के बारे मैं सुन कर  आपके विचार, आपके खान पान, भाषा के बारे मैं वो पहले से समझ जाता है तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी |

ठीक वौसे ही अगर साउथ का कोई आप के सिटी में आता है तो आप को भी उनके डिसेज, भाषा के बारे मैं पहले से पता होता है और ये सिर्फ किसी एक के लिए नहीं सभी के लिए ये लागु होती है |

p4

 

 

दोस्तों अगर आप को मेरा ये Website quotes and Success motivation पर आर्टिकल पसंद आये तो आप इसे पसंद भी कर सकते है और आप भी Success motivation हमे लिख सकते है | दोस्तों अगर आप कोई सुझाव देना या आर्टिकल भेजना चाहते है और वो अगर हमे पसंद आया तो हम आप के फोटो और नाम के साथ आपकी आवाज website quotes में पब्लिश भी करेंगे |

Facebook Comments

4 thoughts on “जगह से विचारो का सम्बन्ध

    1. धन्यबाद तनूजा जी की आप ने मेरा आर्टिकल जगह से विचारो का सम्बन्ध को लिखे किया

  1. अत्यंत मधुर लेख. मैं बिहार गया का रहने वाला हु उर आपने बिलकुल सही बात कही, मैं जब मुंबई गया तो मेरी भाषा से ही वहा के लोगो ने मुझे कहा के आप कहा के है.
    और मेरे पटना में जब BPSC का एग्जाम देने गया तो वहा मुझे चेन्नई का एक लड़का मिला जिसके भाषा से मैं समझ गया.
    फिलहाल मैंने IPS ट्रेनिंग मोहाली में ले रहा हु और आपके लेख के माध्यम से वाकई बहुत अच्छा सन्देश मिल रहा है.
    आपकी पूरी website बहुत मजेदार लगी मुझे और मैं इसे बिना पढ़े में सो नही पता.

    1. Dhanybaad ramesh Ji main aap ka bahut abhari hu ki aap roj hamare article padte aur like karate hai…main Puri kosis karunga ki aap ko zameen SE Judi saari chijo SE avgat karata rahu

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *