home Indian History गणतंत्र दिवस पर हिंदी में स्पीच

गणतंत्र दिवस पर हिंदी में स्पीच

हम सभी भारत देश के सम्मानित नागरिक है. 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के रूप में हमारे देश में हर साल मनाया जाता है. आज ही के दिन 26 जनवरी 1950 को हमारे संविधान का निर्माण हुवा था और हमारे देश को प्रजातांत्रिक देश का दर्जा मिला था.

हर साल इस दिन देश के कोने कोने में इसे पर्व के रूप में मनाया जाता है. देश का हर नागरिक इसे मनाकर स्वयं को गौरवान्वित महसूस करता है.

 

26 जनवरी 1950 के दिन, संविधान की नींव भारत में रखी गयी और भारत एक प्रजातांत्रिक देश के रूप में स्वीकार किया गया. हमारे देश के सभी नागरिकों को इस तरह से एक समान और स्वतंत्र होने का अधिकार मिल गया. इसके बाद से हमारे देश भारत में हम सभी नागरिकों के द्वारा चुना गया व्यक्ति ही सिर्फ सरकार चलाने के योग्य माना जाने लगा.

भारत का संविधान डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर के द्वारा बनाया गया था जिसने भारत सरकार के एक्ट, 1935 की जगह ली.

 

बी. आर. अम्बेडकर द्वारा बनाया गया संविधान 26 नवम्बर 1949 को सफलतापूर्वक पारित किया गया.

इस तरह भारत स्वतंत्र, सामाजिक, प्रजातांत्रिक और समाजवादी देश के रूप में 26 जनवरी 1950 से कहलाया जाने लगा. हालाँकि जब संविधान बनाया गया था, उस समय सामाजिक और समाजवादी शब्द संविधान में नही जोड़े गए थे. बाद में इसे 42वे संशोधन में इसे जोड़ा गया.

ambedkar

हमारे देश में आम आदमी के अधिकार और उसके कर्तव्य को संविधान में लिखा गया. हर एक नागरिक को न्यायालय और कानून के द्वारा एक नजर से देखा जाने लगा. और भारत का कोई भी नागरिक जाति, धर्म, रंग और रूप के नाम पर पीड़ित नही किया जा सकता था.

अंग्रेजों के शासनकाल में, देश के दो महान शक्शियत महात्मा गाँधी और रविन्द्र नाथ टैगोर ने देश को शांति, प्यार, एकता और समानता का सन्देश दिया.

 

स्वतंत्र भारत के पहले राष्टपति डॉक्टर राजेन्द्र प्रसाद और देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु बने और दोनों ने देश के नागरिकों को अपने कर्तव्यों का पालन करने का सन्देश दिया.

भारतवर्ष के लोग, गणतंत्र दिवस को सम्मान और गर्व से मनाते है. यह दिन एकजुट होने का हमें संदेश भी देती है. लोग इस दिन को अपने सगे संबंधियों, रिश्तेदारों और मित्रों के साथ मिल कर मनाते है और एक दुसरे को बधाईयाँ भी देते है. आज के दिन लोग नए कपडे पहनते है और दिन की शुरुवात राष्ट्रगान गाकर करते है.

 

ज्यादातर संस्थाओ, स्कूल, कॉलेज, क्लब, आदि में परेड भी निकाला जाता है जिसमे सभी लोग सफ़ेद कपडे पहनते है और अपने हाथ में तिरंगा झंडा लिए रहते है. पुरे देश में जगह जगह देश भक्ति गीत सुने जा सकते है.

देश की राजधानी, नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस को बहुत ही ख़ास तरीके से मनाया जाता है. एक शानदार परेड निकाला जाता है जिसमे जल, थल, वायु सेना अपने जौहर दिखाती है.

उसके बाद देश के सुरक्षा में लगे विभिन्न महत्वपूर्ण हथियारों को सबको दिखा कर देश गौरवान्वित होता है. उसके बाद बहुत सारे प्रदेशो की झांकियां भी निकलती है और लोग अपने प्रदेश के सांस्कृतिक कार्यक्रमों को दिखाते है जो बहुत मनमोहक होती है.

republic day parade

गणतंत्र दिवस के दिन पुरे देश में अवकाश रहता है. इस दिन हमारे देश में सभी सरकारी व् निजी कार्यालयों, स्कूलों, कालेजों में विभिन्न तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और अंत में एक परेड भी निकाली जाती है जो देखने में अत्यंत सुखद होती है. बहुत सारे लोग इस दिन अपने दोस्तों और सुभचिंतको के साथ मिलकर इसे मनाते है.

आज के दिन हमें अपने देश पर बहुत गर्व होता है. आइये इस पर्व जैसे दिन पर, हम मिलकर एक साथ रहने और खुशियाँ बांटने का संकल्प ले. हम सभी एक देश के रहने वाले है, अनेकता में एकता का बोध कराने वाले इस इकलौते राष्ट्र के गणतंत्र दिवस पर हम एक अच्छे नागरिक के तरह कार्य करने का प्रण ले.

जय हिन्द जय भारत!

Facebook Comments

Manish M.

An online entrepreneur, WordPress enthusiast, SEO expert and full time blogger.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *